अहिवारा में नवीन शासकीय महाविद्यालय के भवन के लोकार्पण के साथ विभिन्न विकास कार्यों का लोकार्पण और भूमि पूजन, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा अहिवारा में विकास कार्यों की कमी नहीं होने देंगे


विकास कार्यों के लोकार्पण समारोह में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने लोगों को वाटर रिचार्जिंग को भी अपनाने का आह्वान किया, उन्होंने कहा अधिक पानी खींचने की वजह से दुर्ग जिले के भी कई ग्रामीण क्षेत्र रेड जोन में आ गए हैं.


  • अहिवारा, दुर्ग।
  • असल बात न्यूज़।।

0 विशेष संवाददाता

वैसे तो यह शासकीय महाविद्यालय के नवीन भवन के लोकार्पण का समारोह  था लेकिन यहां जिस तरह से भीड़ जुटी थी,दूर-दूर के गांव गांव से महिलाओं, युवाओं, बुजुर्गों की भीड़ जुटी थी लग रहा था कि यह सब अपनी सरकार को देखने और सुनने यहां पहुंचे हैं। अहिवारा विधानसभा क्षेत्र के लगभग सभी गांव से लोगों की टीम यहां पहुंची थी। उत्साहित युवाओं के द्वारा अपने नेताओं के स्वागत मेे जोर शोर से जय कारे भी लगाए गए। अहिवारा महाविद्यालय को 40 वर्षों के बाद अपना स्वयं का भवन मिल सका है। इसके पहले यह महाविद्यालय बीएसपी के द्वारा प्रदत भवन में संचालित था। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने उचित शिक्षा मंत्री उमेश पटेल, जिला प्रभारी मंत्री मोहम्मद अकबर और क्षेत्र के विधायक तथा लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मंत्री गुरु रूद्र कुमार की विशेष उपस्थिति में इन विकास कार्यों का लोकार्पण किया। इस अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि छत्तीसगढ़ को अब महसूस हो रहा है कि यहां छत्तीसगढ़िया लोगों की सरकार बनी है।हम जनता से किए गए पूरे वादे पूरे करने की कोशिश में लगे हुए हैं। उन्होंने कहा कि राज्य में उच्च शिक्षा के स्तर में सुधार के लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। अहिवारा में विकास की कोई कमी नहीं आने दी जाएगी।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने अपने संबोधन के दौरान छत्तीसगढ़ राज्य के अल्प वर्षा के मौजूदा हालात तथा भु जलस्तर में गिरावट की और भी लोगों का ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने कहा कि दुर्ग जिले के कई ग्रामीण इलाके भी अधिक पानी खींचने के कारण अब रेड जोन में आ गए हैं। गुरूर और धमधा इलाकों में सबसे अधिक भूजल स्रोतों का उपयोग किया जा रहा है और पानी खींचा जा रहा है।उन्होंने कहा कि ऐसी वजह से ही साजा में पानी खारा हो रहा है।उन्होंने सभी को वाटर री चार्जिंग की ओर ध्यान देने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हम खेतों तक पानी पहुंचा रहे हैं और प्रत्येक घर तक नल कनेक्शन भी पहुंच दिला रहे हैं। हर घर तक नल कनेक्शन देने की जिम्मेदारी मंत्री जी गुरु जी को ही दे दी गई है।मुख्यमंत्री श्री बघेल ने बताया कि राज्य में उच्च शिक्षा के स्तर में सुधार के लिए प्राध्यापकों की भर्ती की जा रही है। स्कूलों के शिक्षाकर्मियों कभी संविलियन का काम किया गया है तो वही 15000 नए शिक्षकों की भर्ती की जा रही है।युवाओं को रोजगार दिलाने के लिए वन विभाग में भी भर्ती की जा रही है।छत्तीसगढ़ राज्य में पिछले ढाई वर्षों के दौरान 4 नए मेडिकल कॉलेज खोले गए हैं। 2 नए विश्वविद्यालय शुरू किए गए।

कार्यक्रम में मंच पर विधायक राम कुमार यादव, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती शालिनी रिवेंद्रा यादव, पूर्व विधायक श्रीमती प्रतिमा चंद्राकर, नगर पालिका अध्यक्ष नटवरलाल ताम्रकार, जनपद पंचायत धमधा की अध्यक्ष सरस्वती रात्रे,दुर्ग जिला ग्रामीण कांग्रेस के अध्यक्ष निर्मल कोसरे, सरपंच संघ अध्यक्ष झुमुक़ साहू भी उपस्थित थे। कार्यक्रम में सर्वश्री विजय जैन, अशोक बाफना, प्रकाश ठाकुर, बलजीत सिंह, राजीव गुप्ता, खिलावन चक्रधारी, हीरा लाल वर्मा, दुर्गा गजभिए, नंद कुमार सिंह, झुमुक साहू प्रकाश नाहटा, महंत मनीष बंजारे, नागमणि साहू, विक्रांत अग्रवाल, संतराम बंजारे, शालिगराम बंजारे, डॉ बालमुकुंद वर्मा, शिव कुमार वर्मा, मधुसुधन, भूषण सोनी विक्रम ठाकुर लीला जैन, नंदू राम निषाद संतोष लोधी, सुनीती यादव, कुमारी साहू, शशि मदारिया शैलेंद्र निषाद मदनलाल जांगड़ा विपिन वर्मा मंजू बघेल गीतांजलि वर्मा आत्माराम गजपाल मंजू गजपाल श्रीमती जानकी साहू मुकुंद पारकर,प्रमोद साहू कुसुम बघेल श्रीमती सुनीता दुबे, ललित देशमुख मोहिनी पटेल, परदेशी राम साहू, प्रदीप साहू,दिल हरण साहू सरोज साहू श्रीमती कुंती तिवारी संतोष चौहान धर्मचंद बाफना सुरेश पटनायक शिवकुमारी, जागेश्वर सूर्यवंशी हरी राज राजेश कुमार निषाद बेना बाईं सोनवानी, राजकुमार वर्मा, राधिका कलार पगबंधी सहित हजारों की संख्या में कार्यकर्ता गण उपस्थित थे।

जमकर लगे जय गुरुदेव, जय गुरुदेव के नारे

सभा स्थल पर उपस्थित युवाओं, महिला कार्यकर्ताओं में भारी उत्साह नजर आ रहा था। अतिथियों के आगमन के दौरान सभा स्थल जय गुरुदेव जय गुरुदेव और मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जिंदाबाद के नारों से गूंज उठा।यह नारे युवा कार्यकर्ता की टीम क्यों लगा रहे थे। युवा कार्यकर्ताओं में श्री सभापति आकाश कुर्रे, सुमन साहू युवराज कश्यप अशोक आडिल, अशफाक अहमद सेवा कोरमा खिलेश्वर साहू नौशाद सिद्दीकी सूरज धीरे पंकज सीकट, राजा साहू, योगेश टिकारया, डॉ बालमुकुंद वर्मा इत्यादि शामिल  थे।

नवीन शासकीय महाविद्यालय अहिवारा 1980 से संचालित है। बीएसपी प्रबंधन के द्वारा भवन प्रदान किया गया था जिसमें यह महाविद्यालय चल रहा है। वर्तमान में इसमें स्नातक के सभी कोशिश चल रहे हैं। Commerce ग्रुप में एम कॉम कभी पाठ्यक्रम शुरू हुआ है। सबसे मजेदार बात है कि इस महाविद्यालय में जो स्टूडेंट पढ़ रहे हैं उसमें 80% छात्राएं हैं। यहां महाविद्यालय खुल जाने से कहा जा रहा है कि आसपास के कम से कम 16 गांव के बच्चों को इससे फायदा मिलेगा।कार्यक्रम में अध्यक्षीय आसंदी  से बोलते हुए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग विभाग तथा ग्राम ग्रामोद्योग विभाग के  मंत्री गुरु रूद कुमार ने कहा कि पुलिस ने जब से कांग्रेस की सरकार बनी है किसानों मजदूरों आम लोगों के हित में निरंतर कार्य हो रहे हैं। इससे आम लोगों के आगे बढ़ने, तरक्की करने का रास्ता खुला है। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल जी के नेतृत्व वाली सरकार ने अहिवारा को पूर्ण तहसील का दर्जा दिया।छत्तीसगढ़ ही ऐसा प्रदेश रहा है जहां कोरोना संकट के दौरान  आम लोगों की सभी समस्याओं का निराकरण किया गया। उन्होंने बताया कि नंदनी से जामुल जीवदा यनी मार्ग के निर्माण का कार्य 15 अक्टूबर के बाद शुरू हो जाएगा।