मलेरिया एवं डेंगू से बचाव हेतु टायर,कुुलर,फ्रीज में न जमा होने दे पानी,फुल अस्तीन के कपड़े पहनें और मच्छर रोधी उपायों को अपनायें- डॉ सोनवानी

 

बलौदाबाजार ।

असल बात न्यूज।।

जिले में मलेरिया एवं डेंगू से बचाव के लिए जिला मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ खेमराज सोनवानी ने लोगों से  अपने घरों में टायर,कुलर,फ्रीज, गमले आदि में पानी जमा न होने देने और बारिश में फुल अस्तीन के कपड़े पहनने की अपील की है। उन्होंने कहा कि डेंगू के मच्छर साफ पानी में पनपते है। इसलिए लोगों को घर के आसपास पानी के जमाव को रोकना चाहिए।

डॉ खेमराज सोनवानी ने कहा है कि डेंगू से बचाव के लिए मच्छर रोधी जो भी उपाय हैं उसे अपनायें। उन्होंने कहा कि जिलें में लगातार बारिश एवं पानी के जमाव से मच्छरों की पनपने की आंशका बनी रहती है। जिसके मलेरिया एवं डेंगू का खतरा बन जाता है। स्वास्थ्य विभाग द्वारा इससे बचाव के लिए सभी तैयारियां सुनिश्चित की जा रही है। शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र में घर-घर जाकर लोगों को डेंगू से बचाव के लिए विभिन्न उपायों को अपनाने हेतु लगातार जागरूक किया जा रहा है।

 उन्होंने आगें बताया कि डेंगू के प्रारंभिक लक्षण में ठंड लगने के साथ बुखार आता है। मांसपेशियों में दर्द,सिरदर्द, आंख की पुतलियों के पीछे दर्द होता है। जी मचलाना,उल्टी और कभी कभी किसी मरीज के शरीर में चकते आते है। इससे बचाव के लिए सर्वप्रथम रेपिड डेंगू टेस्ट कराना चाहिए। इसमें एंटीजन पाॅजिटिव आने पर एलाईजा टेस्ट जिला अस्पताल में कराया जा सकता है। टेस्ट की सभी सुविधाएं जिला, सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में उपलब्ध है। पाॅजिटिव मरीजों का इलाज जिला अस्पताल व सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क उपलब्ध है। डेंगू के रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग के मितानिनों द्वारा घर-घर जाकर सर्वे भी किया जा रहा है। इसके लिए शहरी क्षेत्र में भी मितानिनों की टीम बनाकर उनको चेक लिस्ट दिया गया है। मितानिनें घर घर जाकर डेंगू से बचाव के तरीके बताएंगी और लोगों को जागरूक करेंगी।