निरीक्षण के पहले दिन माॅर्निंग विजिट में स्लम क्षेत्र एवं निचली बस्तियों में पहुंचे आयुक्त प्रकाश सर्वे

 

*-शौचालय से नदारद केयर टेकर को नोटिस जारी करने दिया निर्देश


भिलाईनगर ।

असल बात न्यूज़।।

भिलाई निगम में जिम्मेदारी संभालने के बाद आयुक्त प्रकाश सर्वे ने यहां भी morning visit शुरू कर दिया है। इससे निगम कर्मियों को परेशानी हो सकती है लेकिन आम लोगों को यह अच्छा लग रहा है। उल्लेखनीय है कि रिसाली में निगमायुक्त रहने के दौरान श्री सर्वे ने वहां मॉर्निंग विजिट शुरू कर लोगों से सीधे मुलाकात तथा उनकी समस्याओं की जानकारी लेना शुरू किया और उनका यह अभियान काफी सफल और चर्चित रहा है।

 मालिक विजिट की कड़ी में निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे आज जोन 01 नेहरू नगर क्षेत्र अंतर्गत वार्ड 03 कोसानगर के यादव मोहल्ला पहुंचे। यह क्षेत्र स्लम बस्ती है और निचली बस्ती में आता है। बारिश के दिनों में जलभराव की स्थिति इस क्षेत्र में देखने को मिलती है, साथ ही नाला का पानी भी अधिक बारिश में सड़क पर बहने लगता है। दूसरा यह मोहल्ला स्लम क्षेत्र है और सघन भी है। इन्ही सभी कारणों से आज निगम आयुक्त प्रकाश सर्वे इस क्षेत्र में माॅर्निंग विजिट के लिये निरीक्षण के प्रथम दिन पहुंचे। उन्होंने यहां की सफाई व्यवस्था का जायजा लिया। निगमायुक्त जब पहुंचे उस दौरान नाली सफाई की जा रही थी।

 आयुक्त ने निर्देश दिया कि नाली सफाई के तुरंत बाद मलबा को हटाकर उस स्थल में चूना एवं ब्लीचिंग का छिड़काव करे ताकि स्थल स्वच्छ रहे और कोई संक्रामक बीमारी का फैलाव न हो। भिलाई निगम क्षेत्र में अभी तक कचरा हटाने के बाद चुना व ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव करने की परंपरा नहीं रही है लेकिन लग रहा है कि अब इसे शुरू किया जाएगा या करना पड़ेगा। मोहल्ले के सकरी गलियो से होते हुये अमृत मिशन के तहत बिछाये गये वितरण पाइपलाईन से घरो में पानी आने की जानकारी ली, रहवासियों से उन्होंने पानी आने और वाटर मीटर के बारे में पूछा।

इस दौरान कुछ रहवासियों ने बताया कि पानी का प्रेशर कम है। आयुक्त ने इस पर जलकार्य विभाग के अधिकारियो को इसके निराकरण के निर्देश दिये और इस प्रकार के क्षेत्रों को चिन्हांकित करने कहा। कोसानगर के नाला का निरीक्षण के दौरान उन्होंने कहा कि जल प्रवाह निरंतरता में होना चाहिये, नाला में कचरा न फंसे इसका विशेष ध्यान रखा जाये, समय-समय पर तथा आवश्यकता अनुसार नाला से कचरा की सफाई होते रहे! उन्होंने कोसानगर के सामुदायिक शौचालय का निरीक्षण किया। शौचालय के बाहर पुरूष एवं महिला का संकेतक पृथक से लिखवाने के निर्देश दिये! शौचालय की साफ-सफाई उन्होंने देखी, शौचालय का केयर टेकर उस वक्त वहां मौजूद नहीं थे, जिस पर आयुक्त ने नाराजगी जताई और केयर टेकर को नोटिस जारी करने के निर्देश दिया है।