जलशक्ति मिशन के तहत पोर्टल में एंट्री के लिए दिया गया तकनीकी प्रशिक्षण

 

धमतरी।

असल बात न्यूज।।

कैच द रेन, व्हेयर इज फाल्स, व्हेन इट फाल्स‘ की थीम पर आधारित जलशक्ति अभियान के तहत विभिन्न विभागों के पोर्टल पर एंट्री के लिए आज सुबह 11.00 बजे कलेक्टोरेट सभाकक्ष में कार्यशाला आयोजित की गई, जिसमें केन्द्र सरकार के इस महत्वाकांक्षी अभियान का सुचारू एवं तकनीकी क्रियान्वयन किया जा सके। जल संसाधन विभाग छत्तीसगढ़ शासन के निर्देशानुसार आयोजित कार्यशाला में विभिन्न विभागों के तकनीकी अधिकारियों एवं कर्मचारियों को पोर्टल में इंद्राज करने के संबंध में आवश्यक एवं महत्वपूर्ण जानकारी दी गई।
    कलेक्टर श्री पी.एस. एल्मा एवं जिला पंचायत की सी.ई.ओ. श्रीमती प्रियंका महोबिया की उपस्थिति में आज कलेक्टोरेट सभाकक्ष में प्रशिक्षण प्रदान किया गया। कार्यशाला में जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी श्री उपेन्द्र सिंह चंदेल ने बताया कि वर्षा जल के संरक्षण के लिए जल भण्डारण, जल स्त्रोतों, जल संरचनाओं की विस्तृत सूची तैयार करने जैसे कार्य इसके तहत किए जाएंगे, जिसके लिए कार्रवाई प्रारम्भ की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि इसके अंतर्गत विभागों से प्राप्त योजनाओं का संकलन कर विस्तृत कार्ययोजना, मास्टरप्लान तैयार किया जाएगा जिसको भविष्य में भारत सरकार जलशक्ति मंत्रालय द्वारा तैयार किए गए पोर्टल में अपलोड किया जा सकेगा। कार्यशाला में यह भी बताया गया कि मास्टर प्लान तैयार करने के लिए सभी विभागों के निर्धारित प्रपत्र में किए जाने वाले कार्य जैसे रूफटॉप, हार्वेस्टिंग, चेकडैम, पॉण्ड निर्माण, तालाबों का अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई, जल क्षमता में वृद्धि हेतु डीसिल्टिंग एवं अन्य ऐसे कार्य जिससे सतही जल एवं भूजल के संरक्षण को बढ़ाने के लिए किए जा रहे कार्यों का विवरण शामिल है, इसमें शामिल किया जा सकेगा, जैसे नगरीय निकायों में सुधार कार्य एवं नवीनीकरण, वर्षा जल का संचय कर भूमि जल संवर्धन में वृद्धि करना एवं सूक्ष्म सिंचाई योजनाओं आदि कार्य को लिया जाना है। कार्यशाला में जिला सूचना एवं विज्ञान अधिकारी ने विभागों की कार्यवार एंट्री करने तथा अन्य तकनीकी पहलुओं की जानकारी दी। इसमें संबंधित विभाग के तकनीकी कर्मचारी एवं डाटा एंट्री ऑपरेटर उपस्थित थे।