छत्तीसगढ़ में 20 सितम्बर को सर्वाधिक लोगों को कोरोना के विरूद्ध टीका लगाया गया

 

*प्रदेश भर में 3260 साइट्स पर एक ही दिन में 4.29 लाख लोगों का टीकाकरण


रायपुर.। 

असल बात न्यूज़।।

 छत्तीसगढ़ में 20 सितम्बर को रिकॉर्ड संख्या में कोरोना से बचाव का टीका लगाया गया है। इस दिन प्रदेश भर के 3260 टीकाकरण साइट्स पर चार लाख 29 हजार लोगों को टीका लगाया गया। स्वास्थ्य मंत्री श्री टी.एस. सिंहदेव के निर्देश पर राज्य में जल्द से जल्द सौ फीसदी टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करने तेजी से टीकाकरण किया जा रहा है। इसके लिए टीकाकरण साइट्स की संख्या भी लगातार बढ़ाई जा रही है ताकि एक ही जगह पर ज्यादा भीड़ न हो। स्वास्थ्य विभाग का अमला युद्ध स्तर पर कोविड टीकाकरण में लगा हुआ है।

विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. आलोक शुक्ला ने इस उपलब्धि पर पूरे स्वास्थ्य अमले को बधाई दी है और टीकाकरण में तेजी बनाए रखने कहा है ताकि सभी पात्र लोगों का टीकाकरण जल्दी से जल्दी किया जा सके। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन की संचालक एवं कोरोना टीकाकरण की राज्य नोडल अधिकारी डॉ. प्रियंका शुक्ला ने बताया कि 20 सितंबर को प्रदेश में 3260 सेशन साइट्स पर चार लाख 29 हजार लोगों को टीका लगाया गया। इससे पहले इस साल 26 जून को सर्वाधिक संख्या में टीके लगाए गए थे। उस दिन कुल तीन लाख 50 हजार 492 व्यक्तियों का टीकाकरण किया गया था।


स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने बताया कि 20 सितम्बर को लक्ष्य के विरूद्ध सूरजपुर जिले में सर्वाधिक 194 प्रतिशत टीकाकरण किया गया। वहीं दन्तेवाड़ा में 156%, बलौदाबाजार-भाटापारा में 154%, जशपुर में 129%, बालोद में 126%, बेमेतरा में 121%, कोरबा में 113%, कांकेर में 96%, सरगुजा में 82%, गरियाबंद में 80%, बलरामपुर में 75%, कोरिया व रायगढ़ में 69-69%, सुकमा में 68%, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही में 67%, मुंगेली में 64%, जांजगीर-चांपा में 62%, कबीरधाम में 60%, धमतरी में 59%, दुर्ग में 55%, बिलासपुर में 54%, रायपुर में 46%, कोण्डागांव में 45%, महासमुंद में 43%, राजनांदगांव में 40%, नारायणपुर में  32%, बीजापुर में 26% तथा बस्तर जिले में 24% लोगों का निर्धारित लक्ष्य के विरूद्ध कोविड टीकाकरण किया गया। 20 सितम्बर को राज्य के लिए निर्धारित कुल लक्ष्य के विरूद्ध 78 प्रतिशत लोगों का टीकाकरण किया गया। टीका लगाने के बाद भी कोरोना के खतरे को कम करने के लिए कोविड अनुरूप व्यवहार करना, मास्क लगाना, शारीरिक दूरी रखना एवं हाथों की समुचित साफ-सफाई आवश्यक है।