सावधान..., केरल में निपाह वायरस से बच्चे की मौत की पुष्टि

 


केरल के कोझीकोड जिले में निपाह वायरस का एक मामला सामने आया है,

 सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को व्यवस्थित करने टीम भेजी गई

नई दिल्ली, छत्तीसगढ़।

असल बात न्यूज।।

0  विशेष संवाददाता

केरल से ताजा खबर आ रही है कि वहां एक बच्चे की निपाह वायरस से संक्रमित हो जाने के बाद मौत हो गई है। स्वास्थ्य विभाग ने उस बच्चे के निपाह वायरस से संक्रमित होने की पुष्टि की है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की जानकारी के अनुसार नीपाह वायरस का संक्रमण चमगादड़ की लार से फैलता है।इसका संक्रमण फैलने की आशंका से पूरे देश में खलबली मच गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार उक्त घटना केरल के कोझीकोड जिले की है। मृतक 12 साल का बच्चा बताया जा रहा है। उसमें एन्सेफलाइटिस और मायोकार्डिटिस रोग के लक्षण नजर आ रहे थे। 12 साल के लड़के की इस मौत के मामले को NIPAH के संक्रमण का एक संदिग्ध मामला माना जा रहा है।लड़का अस्पताल में भर्ती था और दूसरे दिन सुबह उसका निधन हो गया

गंभीर बात यह है कि यह वायरस चमगादड़ों के लार से फैलता है। । कोरोना के संक्रमण के फैलाव के के बारे में  पहले प्रारंभिक सूत्रों से जो बातें सामने आई थी उसमें भी यह माना जा रहा था कि यह वायरस चमगादड़ से फैला है।


केंद्र सरकार ने राज्य में एनसीडीसी की एक टीम भेज डी है, जिसके आज वहां keral पहुंच जाने की संभावना है। आज टीम राज्य को तकनीकी सहयोग देगी।

केंद्र द्वारा राज्यों को  तत्काल निम्नलिखित सार्वजनिक स्वास्थ्य उपायों को अपनाकर काम करने की सलाह दी गई है:


1. परिवार, परिवारों, गांव और समान स्थलाकृति वाले क्षेत्रों (विशेषकर मलप्पुरम) में सक्रिय मामले की खोज।
2. पिछले 12 दिनों के दौरान सक्रिय संपर्क अनुरेखण (किसी भी संपर्क के लिए)।
3. संपर्कों का सख्त संगरोध और किसी भी संदिग्ध का अलगाव।
4. प्रयोगशाला परीक्षण के लिए नमूनों का संग्रह और परिवहन।

यह भी उल्लेखनीय है कि है कि 2018 में भी केरल के कोझीकोड और मलप्पुरम जिलों में निपाह का प्रकोप हुआ था।