Vaccination, कोरोना के संक्रमण से मृत्यु और इसकी जटिलताओं के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है

 

नई दिल्ली। असल बात न्यूज़।
कोरोना से बचाव के लिए लड़ा जा रहा टीका भले ही इस वायरस के विभिन्न रूपों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करने में पूर्ण रूप से सक्षम न होलेकिन यह निश्चित रूप से कोरोना वायरस  से संक्रमित हो जाने की हालत में मृत्यु और इसकी जटिलताओं के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है। अभी खुशी की बात है कि अब लोग भी पहले की तुलना में बहुत अधिक सतर्क हो गए हैं और सुरक्षित दूरी तथा फेसमास्क के उपयोग सहित कोविड के उचित व्यवहार का पालन स्वयं की इच्छा से करने लगे हैं।

भारत में विश्व स्वास्थ्य संगठनडब्ल्यू.एच.की वर्तमान मुख्य वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन ने  केंद्रीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकीराज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभारपृथ्वी विज्ञानराज्य मंत्री, प्रधानमंत्री कार्यालयकार्मिकलोक शिकायतपेंशनपरमाणु ऊर्जा एवं अंतरिक्ष राज्य मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से मुलाकात कर विभिन्न विषयों पर बातचीत की।

डॉ. सौम्या एक प्रख्यात चिकित्सा विशेषज्ञ और आईसीएमआर की पूर्व प्रमुख हैंउन्होंने डॉ जितेंद्र सिंह के साथ वर्तमान कोविड महामारी के विभिन्न पहलुओं के अलावा अन्य संबंधित मुद्दों की एक विस्तृत श्रृंखला पर चर्चा की।

आसानी से उपलब्धता और पहुंच के माध्यम से सामूहिक टीकाकरण के महत्व पर जोर देते हुए डॉ. सौम्या ने कहा किभले ही टीका वायरस के विभिन्न रूपों के खिलाफ सुरक्षा प्रदान करने में पूर्ण रूप से सक्षम न होलेकिन यह निश्चित रूप से कोरोना वायरस से मृत्यु और इसकी जटिलताओं के जोखिम को काफी हद तक कम कर सकता है। श्री जितेंद्र सिंह ने उन्हें बताया किप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के व्यक्तिगत हस्तक्षेप तथा उनके द्वारा दिन-प्रतिदिन की निगरानी के साथभारत ने सबसे तेज और सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान चलाया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के आह्वान पर समाज के सभी वर्गों के लोग सहयोग के लिए आगे आ रहे हैं।

IMG_256

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा किभारत जैसे अनेकता और विविधता वाले देश मेंजहां पर विभिन्न प्रकार की मान्यताएं तथा कई आस्थाएं मौजूद हैंवहां इतने बड़े टीकाकरण अभियान को शुरू करना कोई आसान कार्य नहीं था। श्री सिंह ने कहा कियह ध्यान रखना बेहद महत्वपूर्ण है किप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में भारत ने इस अवसर पर बढ़चढ़ कर काम करने की उल्लेखनीय क्षमता दिखाई है। उन्होंने कहा किसंसाधनों की कमी के बावजूद एक वर्ष के भीतर ही हम एक से अधिक वैक्सीन वितरित करने की स्थिति में हैं और दुनिया के अन्य देश भी वैक्सीन के लिए हमारी तरफ देख रहे हैं।

कोरोना के खिलाफ भारत की व्यापक और एकजुट लड़ाई की सराहना करते हुए डॉ. सौम्या स्वामीनाथन ने कहा किआने वाले महीनों में भी हमें और सतर्क रहने की आवश्यकता होगी।

डॉ. जितेंद्र सिंह ने कहा किसामान्य रूप से देखा जाये तो अब लोग भी पहले की तुलना में बहुत अधिक सतर्क हो गए हैं और सुरक्षित दूरी तथा फेसमास्क के उपयोग सहित कोविड के उचित व्यवहार का पालन स्वयं की इच्छा से करने लगे हैं। उन्होंने कहा किप्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी हमेशा अपने देशवासियों को कोविड से संबंधित सावधानियों के महत्व के बारे में याद दिलाने के लिए कदम उठाते हैं और उनके द्वारा दिया गया संदेश जनता के बीच प्रेरणा उत्पन्न करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।


...

................................

...............................

असल बात न्यूज़

खबरों की तह तक, सबसे सटीक , सबसे विश्वसनीय

सबसे तेज खबर, सबसे पहले आप तक

मानवीय मूल्यों के लिए समर्पित पत्रकारिता

................................

...................................