धोबी समाज ने स्वाभिमान दिवस के रूप में मनाया मुख्यमंत्री का जन्मोत्सव : श्री गिरीश देवांगन ने काटा छत्तीसगढ़िहा केक

 

राष्ट्रीय अध्यक्ष ने रजककार बोर्ड के गठन पर माना छग को देश का मॉडल सरकार

हाय रे मोर कोचई के पान रहा आकर्षण का केंद्र

रायपुर । असल बात न्यूज़।

छत्तीसगढ़ प्रदेश धोबी समाज ने राज्य सरकार द्वारा रजककार बोर्ड बनाए जाने के खुशी में मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल का जन्मोत्सव बड़ी धूम-धाम से स्वाभिमान दिवस के रूप में मनाया और खनिज विकास निगम के अध्यक्ष श्री गिरीश देवांगन को मुख्य अतिथि के रुप में आमंत्रित कर छत्तीसगढ़िहा केक अंगाकर रोटी कटवाया। समाज जनों को संबोधित करते हुए श्री देवांगन ने कहा- धोबी समाज की पहचान अब राष्ट्रीय स्तर से बनने लगी है और राष्ट्रीय स्तर से संगठन बन चुका है, यह बहुत बड़ी बात है रजककार बोर्ड का गठन धोबी समाज के उत्थान के लिए मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने किया है। उन्होंने कहा- बोर्ड में स्थान उन्हीं लोगों को मिलेगा जो समाज के प्रति समर्पित है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल सामाजिक जानकार और सामाजिक सोच रखने वाले राजनेता हैं। उन्होंने कहा कि पौनी पसारी में धोबी समाज आता है जो हमारे छत्तीसगढ़ में अत्यंत पिछड़ा हुआ है जिसको ध्यान में रखकर ही रजककार बोर्ड का गठन किया गया है, जिसमें अनेक नियमावली तैयार की जा रही है। 

राष्ट्रीय अध्यक्ष कृष्ण कुमार कनौजिया (मुंबई) ने कहा कि छत्तीसगढ़ सरकार ने रजककार बोर्ड गठन कर देश में मॉडल सरकार होने का उदाहरण प्रस्तुत किया है। यही कारण है कि मुख्यमंत्री के जन्म उत्सव समारोह में शामिल होने के लिए राष्ट्रीय समाज अपने आपको रोक नहीं पाया। उन्होंने समाज को अनुसूचित जाति में शामिल करने के लिए राज्य सरकार द्वारा जारी परिपत्र को प्रत्येक परिवार को भरने के लिए अपील की, उन्होंने समाज जनों से अपील करते हुए जोर देते हुए कहा इस परिपत्र को भरने से समाज के जनगणना भी हो जाएगी और समाज को आरक्षण मिलने के लिए मार्ग प्रशस्त होगा।

समाज के प्रदेश अध्यक्ष सूरज निर्मलकर ने मुख्यमंत्री की ओर से पर्यवेक्षक के रुप में पहुंचे गिरीश देवांगन से कहा कि हमारा उद्देश्य समाज की बेहतरी और आर्थिक प्रगति है। इस सामाजिक जन्मोत्सव समारोह में छत्तीसगढ़ी फिल्म अभिनेत्री अनीता बरेठ (कोरबा) और अश्वनी निर्मलकर (बिरगांव) ने हाय रे मोर कोचई पान संगीत में शानदार मनमोहक नृत्य प्रस्तुत किया जो आकर्षण के केंद्र रहे। इस जन्म उत्सव समारोह में राज्य भर से जिला अध्यक्ष, परीक्षेत्रीय अध्यक्ष और सभी फिरके झेरिया, कनौजिया, बैसवारा, परदेसिया, देशहा, बुंदेला, लरिया, कोसरिया के मुखिया पहुंचे और सभी लोगों ने सर्वसम्मति से समाज के प्रदेश अध्यक्ष श्री सूरज निर्मलकर को बोर्ड के अध्यक्ष बनाने की मांग रखी। 

समारोह में राष्ट्रीय अध्यक्ष तथा मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष राष्ट्रीय सलाहकार राजेंद्र आहिर का परंपरागत धोबी पगड़ी से नवाज कर अभिनंदन किया गया तथा जिला पंचायत सदस्य श्रीमती सीमा देवानंद निर्मलकर और पार्षद उमा चंद्रहास निर्मलकर कन्हैया निर्मलकर, एल्डरमैन राम चरण निर्मलकर का सम्मान किया गया। समारोह को महासमुंद के जिला अध्यक्ष देवानंद निर्मलकर, बिलासपुर के जिला अध्यक्ष पवन निर्मलकर, कनौजिया समाज के अध्यक्ष भागबली निर्मलकर, बैसवारा समाज के अध्यक्ष कृष्णा चौधरी, दुर्ग जिला अध्यक्ष राम दीदी निर्मलकर, ज्योति निर्मलकर, युवा प्रदेश अध्यक्ष गिरधारी बरेठ, प्रदेश महासचिव श्रीमती मधु निर्मलकर बेलतरा, प्रादेशिक प्रवक्ता गंगा अमन निर्मलकर, प्रदेश महामंत्री चंद्रहास निर्मलकर, मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय निर्मलकर धमतरी, त्रिलोचन बाघे, श्रीमती शांति सेठ, जितेंद्र रजक केशकाल बस्तर, रामनाथ निर्मलकर राजनांदगांव, रामाशंकर रजक सरगुजा आदि अनेक पदाधिकारियों ने संबोधित किया। समारोह का संचालन आकाशवाणी के उद्घोषक वीरेंद्र निर्मलकर, प्रदेश सचिव पीसी निर्मलकर और आभार प्रदर्शन महामंत्री चंद्रहास निर्मलकर ने किया।