धमतरी पुलिस ने अंतरराज्यीय गांजा तस्कर को अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजा परिवहन करते किया गिरफ्तार

 

 धमतरी पुलिस द्वारा अब तक की सबसे बड़ी कार्यवाही 

 पिकअप वाहन में सफेद रंग की बोरियों में छिपाकर रखा था बड़ी मात्रा में मादक पदार्थ गांजा

धमतरी। असल बात न्यूज़।

उड़ीसा से मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ में बड़े पैमाने पर गांजा लाया जा रहा है। बीच-बीच में ऐसे मामले पकड़े जाते रहे हैं और गांजे की तस्करी के मामलों का खुलासा होता रहा है। लेकिन गांजे की तस्करी अभी थम नहीं रही है। धमतरी पुलिस ने उड़ीसा से मध्यप्रदेश की ओर ले जाते हुए भारी मात्रा में गांजा को बरामद किया है। आरोपियों के कब्जे से लगभग 305 किलोग्राम मादक पदार्थ गांजा, कीमती करीबन 61 लाख रुपए बराम किया गया है और 01 आरोपी को  गिरफ्तार किया गया है।पुलिस ने मादक पदार्थ गांजा के अवैध परिवहन हेतु प्रयुक्त पिकअप वाहन एवं एक मोबाइल भी  जप्त किया है।

        पुलिस अधीक्षक धमतरी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने नशीले पदार्थों के क्रय-विक्रय व तस्करी पर प्रभावी अंकुश लगाने एवं इस प्रकार के अवैध कारोबार में संलिप्त व्यक्तियों को चिन्हांकित कर उनके विरुद्ध सख्त कार्यवाही करने के निर्देश दिए हैं। साथ ही सभी थाना प्रभारियों को बेसिक व विजिबल पुलिसिंग करते हुए विभिन्न स्रोतों से प्राप्त सूचनाओं पर त्वरित कार्यवाही करते हुए सघन चेकिंग अभियान चलाकर अपराधों पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए हैं। जिसका बेहतर परिणाम भी नजर आ रहा है।

       थाना प्रभारी सिहावा नोहर सिंह मंडावी को मुखबीर के जरिये सूचना मिली थी कि बोराई की ओर से एक सफेद रंग की पिकअप वाहन में दो व्यक्ति अवैध रूप से गांजा बिक्री करने हेतु सिहावा की ओर ले जा रहे हैं। उक्त सूचना से वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराया गया। 

          पुलिस अधीक्षक ने सूचना की तस्दीक करते हुए पूर्ण सतर्कता के साथ त्वरित कार्यवाही करने आवश्यक निर्देश दिए। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मनीषा ठाकुर रावटे के मार्गदर्शन एवं पुलिस अनुविभागीय अधिकारी नगरी श्री मयंक रणसिंह के दिशा निर्देश में थाना प्रभारी सिहावा ने तत्काल टीम तैयार कर गवाहों के साथ घठुला बस स्टैंड-बोराई मार्ग पर घेराबंदी कर आने जाने वाले वाहनों की सघन चेकिंग किया गया। कुछ देर बाद एक सफेद रंग की पिकअप वाहन आने पर रोका गया। पुलिस को देखकर पिकअप में सवार दो व्यक्तियों में से एक व्यक्ति पिकअप से उतरकर जंगल की ओर भाग गया। पिकअप चालक ने नाम पता पूछने पर अपना नाम नीलेश यादव निवासी अर्जुनी, पोस्ट अमलीडीह थाना पाली जिला उमरिया मध्यप्रदेश बताया तथा उसके साथ बैठे दूसरे व्यक्ति का नाम उमेंद कुमार तिवारी निवासी बुढार जिला अनूपपुर मध्यप्रदेश बताया। संदिग्ध गतिविधियों के आधार पर पिकअप वाहन की तलाशी ली गई। तलाशी लेने पर पिकअप वाहन में अन्य बोरियों के साथ सफेद रंग की 13 बोरियों में अवैध रूप से मादक पदार्थ गांजा मिला। जिसके संबंध में पूछताछ में खुलासा हुआ कि उड़ीसा से मादक पदार्थ गांजा क्रय कर अवैध रूप से परिवहन करते हुए बिक्री करने हेतु मध्यप्रदेश ले जा रहे थे। किंतु धमतरी पुलिस के सक्रिय सूचना तंत्र व तत्परता से की गई कार्यवाही के कारण तस्करों के मंसूबों पर पानी फिर गया। मौके पर विधिवत कार्यवाही करते हुए उनके कब्जे से 13 बोरियों में भरे कुल 305 किलोग्राम मादक पदार्थ गांजा कीमती करीबन 61 लाख रुपए (इकसठ लाख रुपए) को विधिवत कार्यवाही करते हुए जप्त कर सीलबंद किया गया। मादक पदार्थ गांजा के अवैध रूप से परिवहन में प्रयुक्त पिकअप वाहन क्रमांक MP 18 GA 3837 कीमती करीबन 06 लाख रुपए एवं एक सैमसंग कंपनी का मोबाइल भी जप्त किया गया। आरोपी का कृत्य अपराध धारा 20बी एनडीपीएस एक्ट का पाए जाने से विधिवत गिरफ्तार कर विधि अनुरूप कार्यवाही किया गया। आरोपी को न्यायिक रिमांड हेतु माननीय न्यायालय के समक्ष पेश किया जाएगा। मामले में पिकअप वाहन से उतरकर फरार होने वाले आरोपी की सरगर्मी से पतासाजी की जा रही है। साथ ही विवेचना क्रम में अन्य व्यक्तियों की संलिप्तता के संबंध में भी साक्ष्य एकत्रित किया जा रहा है।

नीलेश यादव पिता कांशी लाल यादव उम्र 23 वर्ष साकिन वार्ड क्रमांक 10 अर्जुनी पोस्ट अम्लीडीह, थाना पाली जिला उमरिया मध्यप्रदेश को गिरफ्तार किया गया है।   जिले में ऐसा पहला मामला है, जब 3 क्विंटल से अधिक मात्रा में मादक पदार्थ गांजा अवैध रूप से परिवहन करते हुए पकड़ा गया है। संपूर्ण कार्यवाही थाना प्रभारी सिहावा नोहर सिंह मंडावी के नेतृत्व में सहायक उपनिरीक्षक राधेश्याम बंजारे, आरक्षक जितेंद्र चंद्राकर, अजय नेताम, दिनेश कौशल, संजय सोम एवं योगेश सोम शामिल थे।