राष्ट्रीय पुस्तकालय दिवस पर सूक्ति संग्रहण प्रतियोगिता का आयोजन

 

भिलाई। असल बात न्यूज।

स्वामी श्री स्वरूपानंदद सरस्वती महाविद्यालय हुडको भिलाई पुस्तकालय सलाहकार समिति एवं ग्रंथालय द्वारा राष्ट्रीय पुस्तकालय दिवस जो पुस्तकालय के जनक एस आर रंगनाथन के जन्म दिवस के अवसर पर मनाया जाता है इस अवसर पर सूक्ति संग्रहण प्रतियोगिता का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए श्रीमती मिना मिश्रा, विभागाध्यक्ष गणित ने कहा पुस्तके अच्छी मित्र होती है पुस्तक पढने पर हमारा ज्ञान बढ़ता है पुस्तक एवं पुस्तकालय का हमारे जीवन में महत्वपूर्ण स्थान है विद्यार्थियों के लिए सूक्ति संग्रहण प्रतियोगिता आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य यह है कि सूक्ति संग्रहण के माध्यम से विद्यार्थी पुस्तकालय के महत्व को समझे।

महाविद्यालय के मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ दीपक शर्मा ने पुस्तकालय सलाहकार समिति एवं ग्रंथपाल को बधाई देते हुए कहा कि पुस्तकालय छात्रों के लिए तीर्थ के समान होता है वास्तव में मनुष्य के ज्ञानार्जन के लिए पुस्तको का अध्ययन आवश्यक हैं

महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ हंसा शुक्ला ने पुस्तकालय के महत्व पर प्रकाष डालते हुए कहा कि किताबे इंसान की सबसे अच्छी दोस्त होती है जैसे व्यक्ति अपने दोस्त का हर पल, हर घड़ी हर मुश्किल में साथ देते है  वैसे ही किताबे भी हर विषम परिस्थिति में मनुष्य की सहायक होती है, जिस व्यक्ति को पुस्तको से लगाव होता है वह कभी भी स्व्यं को अकेला कमजोर अनुभव नही करता। 

प्रतियोगिता में विद्यार्थियों ने पुस्तकालय के महत्व पर सारगर्भिगत सूक्ति का संग्रहण किया जिससे विद्यार्थियो की रचनात्मक क्षमता एवं अभिरूचि का पता चलता है। विद्यार्थियों द्वारा संग्रहित सूक्ति से ग्रंथालय का महत्व स्पष्ट होता है- 1. पुस्तक के बीना कमरा ठीक उसी प्रकार है आत्मा के बीन शरीर, 2. ग्रंथालय  किसी भी शैक्षणिक संस्था हृदय स्थल होता है। 3. ग्रंथालय प्राचीन पंपरा का पोषक आधुनिक ज्ञान का साधन और आध्यात्मिक साधना की तपो स्थली है आदि। 

विद्यार्थियो ने राष्ट्रीय पुस्तकालय दिवस पर आयोजित सूक्ति संग्रहण प्रतियोगिता के भाग लिखा विजयी प्रतिभागियो के नाम इस प्रकार है- 1. इन्द्रजीत (एमएससी द्वितीय सेमेस्टर -गणित) 2. छविला साहू (एमएससी द्वितीय सेमेस्टर -गणित) 3. कौशिक भक्त (एमएससी द्वितीय सेमेस्टर -कंप्यूटर), सांत्वना - घनेन्द्र कुमार  बीबीए द्वितीय)। महाविद्यालय की ग्रंथपाल सुश्री नीलिमा साहू  ने बताया कि सूक्ति संग्रहण हेतु विद्यार्थियो ने ग्रंथालयों के विविध पुस्तको का अवलोकन किया जिससे वह श्रेष्ठ सूक्ति का संग्रहण कर सके सूक्ति संग्रहण प्रतियोगिता से विद्यार्थियों ने  ग्रंथालय के महत्व को आत्मसार किया।

कार्यक्रम को आयोजित करने में सहायक प्राध्यापक सुश्री सुपर्णा भक्त  एवं सहायक प्राध्यापक सुश्री जानकी जंघेल ने विशेष योगदान दिया।