पशुधन विकास विभाग द्वारा नेपियर रूट्स के रोपण का दिया गया प्रशिक्षण

 


            दंतेवाड़ा । असल बात न्यूज।

  शासन की अति महत्वाकांक्षी योजना नरवागरूवाघुरवा के अन्तर्गत गोधन को चारा उपलब्ध कराये जाने के उद्देश्य से चारागाह में नेपियर रूट्स एवं अन्य चारा (ज्वार/बाजरा) का रोपण किया जा रहा है।

  कलेक्टर  दीपक सोनी के द्वारा दिये निर्देशों के परिपालन में रोका-छेका कार्यक्रम अंतर्गत आवर्ती चराई गौठान कुम्हाररास के चारागाह में वन विभाग के 25 आवर्ती चराई गौठान प्रभारियों को नेपियर रूट्स रोपण कार्य के संबंध में पशुधन विकास विभाग दन्तेवाड़ा द्वारा प्रशिक्षण दिया गया है साथ ही आवर्ती चराई गौठान में 30 हजार नेपियर रूट्स एवं 36 किलोग्राम एम.पी.चरी(चारा बीज) वन विभाग दन्तेवाड़ा को उपलब्ध कराया गया एवं 10 हजार नेपियर रूट्स के.वी.के. गीदम को प्रदाय किया गया है।

 वर्तमान में जिले के 64 चारागाह में से 30 चारागाह में 55 हजार नेपियर रूट्स का रोपण किया जा चुका है। उक्त प्रशिक्षण कार्यक्रम के दौरान श्री संदीप बलगा वनमण्डलाधिकारीडॉ. अजमेर सिंह कुशवाहा उप संचालक पशु चिकित्सा सेवायेंश्री बलराम धु्रव मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत दन्तेवाड़ा एवं कुम्हाररास के सरपंच भी उपस्थित थे।