भिलाई को मिलेगी बड़ी सौगात,सांसद विजय बघेल ने केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के कला, साहित्य के रीजनल सेंटर को भिलाई में स्थापित करने की मांग उठाई

 

भिलाई। असल बात न्यूज।

दुर्ग लोकसभा के सांसद विजय बघेल ने केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के कला साहित्य के रीजनल सेंटर को भिलाई में स्थापित करने की मांग उठाई है। उन्होंने आज संस्कृति, पर्यटन और उत्तरपूर्वी क्षेत्र विकास मंत्री  गंगापरम किशन रेड्डी से मुलाकात की तथा इस मांग के  संबंध मेंं उनका ध्यान आकर्षित कराया। इस दौरान सांसद श्री बघेल के साथ जगदलपुर केे पूर्व विधायक बैदू राम कश्यप भी मौजूद थे।

 संस्कृति, पर्यटन और उत्तरपूर्वी क्षेत्र विकास मंत्री  गंगापरम किशन रेड्डी से उनके ऑफिस शास्त्री भवन मे मुलाक़ात के दौरान सांसद  विजय बघेल ने उन्होंने बताया कि भिलाई कला संस्कृति के लिए समर्पित शहर है। क्षेत्र के तमाम सांस्कृतिक संगठनो के लोगों के द्वारा  केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय के कला साहित्य के स्वायत्त निकाय के रीजनल सेंटर बोद्ध संस्थान, संग्रहाल्य, क्षेत्रीय संस्कृतिक केंद्र व कला लाइब्रेरी को भिलाई में छत्तीसगढ़ मे स्थापित करने के लिए लंबेेेेे समय से आवाज उठा रही हैै।इनके स्थापित होनेे से संस्कृतिि कला प्रेमी जनता और सभी कला साधको को काफी लाभ मिल सकेगा।


दुर्ग सांसद ने मंत्री श्री रेड्डी    को बताया कि भिलाई इस्पात संयंत्र के अंतर्गत अनेक बड़े स्कूल बंद  हैं और उनके भवन खाली पड़े हैं।, जिनके इनफ्रास्ट्रक्चर मे आवश्यक सुधार कर कम खर्च एवं कम समय मे कला अकादमी एवं अन्य संस्थान शुरू किया जा सकता है। इसके लिये इस्पात मंत्रालय का सहयोग आवश्यक है। इस पर मंत्री जी द्वारा    आश्वस्त इस विषय मे इस्पात मंत्री से बात करके इस कार्य को जल्द से जल्द कॉल करनेेेेेेे का आश्वासन देने की जानकारी मिली है।

  दुर्ग सांसद ने  मंत्री जी को यह भी बताया है कि छत्तीसगढ़ नक्सल प्रभावित (कुछ भाग) राज्य होने के कारण कला एवं संस्कृति मे समृद्द होते हुए भी देश और दुनिया मे अन्य राज्यो से अवसर की दृष्टि से पिछड़ा हुआ है और छत्तीसगढ़ राज्य मे संस्कृति और पर्यटन के क्षेत्र मे अपार संभावना छुपी हुई है। उल्लेखनीय है कि दुर्ग सांसद इसके पहले भी तत्कालीन संस्कृति मंत्री श्री प्रहलाद सिंह पटेल मंत्री को पत्र लिख कर यह विषय उनके संज्ञान मे ला चुके हैं।