छत्तीसगढ़ में तेज़ हवाएं चलने और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना

 

दक्षिण-पश्चिम अरब सागर के ऊपर तेज हवाएं चलने की संभावना

नई दिल्ली। असल बात न्यूज।

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडीके राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के मौसम चेतावनी बुलेटिन के अनुसारअसम और मेघालय के अलग-अलग स्थानों पर भारी से बहुत भारी वर्षा होने की संभावना है। बिहारअरुणाचल प्रदेशतमिलनाडुपुद्दुचेरी और करिकलकेरल और माहेपश्चिम बंगाल और सिक्किमओडिशा में अलग-अलग स्थानों पर भारी वर्षा की संभावना है।

जम्मू कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्टिस्तान और मुजफ्फराबाद, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, राजस्थान, कोंकण और गोवा, केरल और माहे तथा लक्षद्वीप में अलग-अलग स्थानों पर बादलों की तेज़ गर्जना के साथ बिजली कड़कने और 30 से 40 किमी प्रति घंटे की गति से तेज़ हवाएं चलने और गरज के साथ बौछारें पड़ने की संभावना है।

हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पूर्वी मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल और सिक्किम, ओडिशा, असम और मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा, गुजरात के पूर्वी हिस्सों, तटीय आंध्र प्रदेश और यनम, रायलसीमा, आंतरिक कर्नाटक और तमिलनाडु, पुद्दुचेरी तथा कराईकल में कुछ स्थानों पर बिजली गिरने की घटनाएँ हो सकती हैं।

मौसम पूर्वानुमान संबंधी बुलेटिन में आगे की सुचना के अनुसार पश्चिमी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर बादलों की गर्जना होने तथा धूल भरी आंधी चलने की संभावना है। अरब सागर के दक्षिण-पश्चिमी भागों में 40-50 किमी प्रति घंटे की गति से हवाएं चलने और कभी-कभी हवाओं की रफ्तार 60 किमी प्रति घंटे तक पहुँचने की संभावना है इसलिए मछुआरों को इन क्षेत्रों में मछली पकड़ने के लिए ना जाने की सलाह दी जाती है।