तमिलनाडु से जीआई प्रमाणित मदुरई माली और अन्य फूल अमेरिका और दुबई निर्यात

 


नई दिल्ली। असल बात न्यूज।

विदेश में रहने वाले भारतीयों को घर और मंदिरों में देवताओं को ताजे फूलों की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए,  जीआई (भौगोलिक संकेचक) प्रमाणित मदुरै मल्ली और अन्य पारंपरिक फूलों जैसे बटन गुलाबलिलीचमंथी और मैरीगोल्ड इत्यादि सुगंधित ताजा फूल  तमिलनाडु से आज संयुक्त राज्य अमेरिका और दुबई को निर्यात किया गया।

फूलों के खेप के लिए एपीडा पंजीकृत मैसर्स वैनगार्ड एक्सपोर्ट्सकोयंबटूर द्वारा निलाकोट्टईडिंडीगुल और सत्यमंगलमतमिलनाडु से मंगवाए गए थे।

 फूलों के निर्यात को बढ़ाने के लिए कोयंबटूर के तमिलनाडु कृषि विश्वविद्यालय के पुष्प कृषि विभाग के प्रोफेसरों द्वारा सहयोग किया गया है। निर्यातकों द्वारा गुणवत्तापूर्ण फूलों की खेती के लिए किसानों के साथ सीधा संपर्क किया गया और इस पहल से लगभग 130 महिला श्रमिकों और लगभग 30 कुशल श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध हुआ है।

इस पहल से दुबई और संयुक्त राज्य अमेरिका में भारतीय समुदाय नियमित अंतराल पर भारत से फूलों का निर्यात जारी रहने के बाद धार्मिक और सांस्कृतिक त्योहारों को मनाते हुए घर और मंदिरों दोनों में हिंदू देवताओं को ताजे फूल चढ़ा सकेंगे

वर्ष 2020-2021 के दौरान66.28 करोड़ रुपये मूल्य के ताजे फूल तोड़े गए। चमेली के फूल और गुलदस्ते (चमेली और अन्य पारंपरिक फूलों से युक्त) यूएसएयूएईसिंगापुर आदि देशों को निर्यात किए गए थे।  जिनमें से 11.84 करोड़ रुपये के फूल तमिलनाडु से निर्यात किए गए थे। जिसका तमिलनाडु के चेन्नईकोयंबटूर और मदुरै के प्रमुख हवाई अड्डों के जरिए निर्यात किया गया था।

जैस्मीन (जैस्मीनम ऑफ़िसिनेल) दुनिया भर में पाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय फूलों में से एक है। चमेली की खुशबू मदुरै के मीनाक्षी मंदिर के वैभव का पर्याय है।  मदुरै अपने पड़ोस में उगाई जाने वाली मल्लिगाई के लिए एक प्रमुख बाजार के रूप में उभरा हैऔर भारत की 'चमेली राजधानीमें विकसित हुआ है।

जैस्मीन (जैस्मीनम ऑफ़िसिनेल) दुनिया भर में पाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय फूलों में से एक है। चमेली की खुशबू मदुरै के मीनाक्षी मंदिर के वैभव का पर्याय है। मदुरै अपने पड़ोस में उगाई जाने वाली मल्लिगाई के लिए एक प्रमुख बाजार के रूप में उभरा हैऔर भारत की 'चमेली राजधानीमें रुप में विकसित हुआ है।