आदिम जाति कल्याण विभाग विभाग दुर्ग द्वारा पौधारोपण

 


दुर्ग, भिलाई। असल बात न्यूज।

जिले में धरती को हरा भरा बनाने, प्रदूषण दूर भगाने और पर्यावरण संरक्षण के लिए वृक्षारोपण करने  शासकीय, अशासकीय, राजनीतिक गैर राजनीतिक, सामाजिक धार्मिक प्रत्येक वर्ग के लोग आगे आ रहे हैं। इसी कड़ी में यहां आदिम जाति कल्याण विभाग विभाग दुर्ग द्वारा पौधारोपण कार्यक्रम का आयोजन किया गया।


जिले में आदिवासी विकास विभाग के द्वारा प्रत्येक वर्ष  धरती को हरा भरा बनाने और सभी जीवों को प्राकृतिक संजीवनी ऑक्सीजन उपलब्ध कराने के उद्देश्य से बारिश के मौसम जुलाई महीने में छायादार वृक्ष, औषधी, फलदार एव अन्य समान प्रजाति के पौधे जुलाई माह में पौधा रोपित कर वृक्षारोपण महोत्सव मनाया जाता है। इसके परिपेक्ष्य में आदिम जाति कल्याण विभाग, दुर्ग के अंतर्गत संचालित समस्त छात्रावासों में इस साल वृक्षारोपण कार्य किया गया।कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष दुर्ग की धर्मपत्नी डॉ रश्मि भूरे मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थीं।

वृक्षारोपण उत्सव के अंतर्गत जिला नोडल अधिकारी, कोविड-19 होम आईसोलेशन) के करकमलों से कन्या छात्रावास परिसर में तथा  एस. आलोक, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत, दुर्ग द्वारा बालक छात्रावास परिसर, मालवीय नगर चौक, दुर्ग में विभाग के सहायक आयुक्त, श्रीमती प्रियंवदा रामटेके तथा छात्रावास अधीक्षक-अधीक्षिकाओं एव ं अन्य अधिकारी/कर्मचारियों की उपस्थिति में पौधारोपण कार्य संपन्न हुआ।

वृक्षारोपण के अंतर्गत अधिक से अधिक आक्सीजन प्रदान करने वाले तथा दैनिक दिनचर्या के अंतर्गत उपयोग में किए जाने वाले छायादार वृक्ष अशोक, नीम, गुडहल, करन एवं फलदार वृक्ष जिसमें कटहल, मुनगा, आम, आंवला, बले , नींबू, हर्रा-बेहरा के पौधे लगाए गए।

उक्त पौधारोपण करने से छात्रावास मेे निवास करने वाले विद्यार्थियों को शुद्ध वातावरण के साथ ही साथ प्राकृतिक दृश्य, भोजन के लिए उपयोग मे लाये जाने वाले फल-फूल अन्य उपयोग हेतु सामग्री भी उपलब्ध होंने की उम्मीद की गई है।





.