दस्त से बचाव हेतु गांव गांव में लोगों को किया जा रहा है जागरूक, कोरोना से बचाव की भी दी जा रही है जानकारी

 

पाटन, दुर्ग। असल बात न्यूज।

बारिश के दिनों में जल जनित बीमारियों के फैलने की आशंका बहुत अधिक रहती है। पाटन विकासखड मैं इसके प्रति ग्रामीणों को जागरूक करने जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। अभी दस्त नियंत्रण पखवाड़ा चल रहा है तो स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं, मितानिन, सामाजिक कार्यकर्ताओं के द्वारा गांव का में घूम घूम कर दस्त से बचाव के उपाय बताए जा रहे हैं। इसी दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के उपाय के बारे में भी जानकारी दी जा रही है।

हेल्थ एवं वेलनेस सेंटर उपस्वास्थ्य केंद्र ग्राम कसही विकासखंड पाटन जिला दुर्ग में सघन दस्त नियंत्रण पखवाड़ा के तहत कोविड प्रोटोकॉल का पालन करते हुए स्वास्थ्य जागरूकता अभियान चलाया गया।  ग्रामीण स्वास्थ्य संयोजक  संजय साहू,  सीएचओ  शालिनी बघेल, सुश्री यामिनी सोनवानी एवं आँगनवाड़ी कार्यकर्ता, मितानिन तथा ग्राम की महिलाएं उपस्थिति में सुपरवाइजर  के के वर्मा ,श्रीमती सुरेखा राठौर ने दस्त से बचने साफ ताजा पानी का सेवन, हाथ की धुलाई,बच्चों को दस्त होने पर ओआरएस बनाने की विधि , कोविड से बचाव हेतु टीकाकरण, मास्क का उपयोग आदि के संबंध में ग्रामीणों खासतौर पर महिलाओं को जागरूक किया गया। 

विदित है कि 1 जुलाई से 15 जुलाई तक दस्त नियंत्रण पखवाड़ा  आयोजित किया जा रहा है। जिसके तहत  मितानिन 5 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के घर ओआरएस वितरण कर रही हैं एवं दस्त से बचाव संबंधित सलाह दे रही हैं।

बीएमओ पाटन डॉ आशीष शर्मा ने बताया कि कलेक्टर दुर्ग, एसडीएम पाटन  विपुल गुप्ता एवं मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ जी एस ठाकुर के मार्गदर्शन में जिले के साथ साथ  विकासखंड पाटन के सभी ग्रामों में दस्त से बचाव हेतु गतिविधियां संचालित की जा रही है।