छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् करेगा विद्वानों का सम्मान : इच्छुक विद्वान 31 जुलाई तक कर सकते हैं आवेदन

 


रायपुर । असल बात न्यूज़।

छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् द्वारा वर्ष 2021 में संस्कृत के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले संस्कृत विद्वानों का सम्मान किया जाएगा। प्रदेश के 5 संस्कृत विद्वानों को महर्षि वाल्मिकी सम्मान, ऋष्यश्रृंग सम्मान, लोमश ऋषि सम्मान, कौशल्या सम्मान प्राप्त करने वाले प्रत्येक विद्वान का शाल, श्रीफल, प्रतीक चिन्ह और 31 हजार रूपए की राशि से सम्मान किया जाएगा। इसी प्रकार महर्षि वेदव्यास सम्मान में शाल, श्रीफल, प्रतीक चिन्ह और 51 हजार रूपए की राशि प्रदान की जाएगी।
छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् द्वारा इन सम्मानों के लिए इच्छुक विद्वान एवं संस्था से 31 जुलाई तक आवेदन पत्र आमंत्रित किए गए हैं। संस्कृत में गद्य, पद्य और चम्पू में नई रचना करने वाले विद्वानों को महर्षि वाल्मीकि सम्मान, संस्कृत के प्रचार-प्रसार में लगे गैर सरकारी अथवा स्वैच्छिक संस्था या व्यक्ति को ऋष्य श्रृंग सम्मान, संस्कृत पाठशालाओं में संस्कृत की शिक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले अध्यापक को लोमश ऋषि सम्मान, राज्य की संस्कृत विदुषी को कौशल्या सम्मान और महर्षि वेदव्यास सम्मान संस्कृत विद्यामंडलम् को व्यापक स्तर पर बौद्धिक सहयोग प्रदान करने वाले अखिल भारतीय स्तर के एक संस्कृत विद्वान को प्रदान किया जाएगा।
इच्छुक आवेदक संबंधित सम्मान के लिए आवेदन में सम्मान का नाम एवं वर्ष, व्यक्ति अथवा संस्था का पूर्ण परिचय पत्र व्यवहार पता सहित, संबंधित सम्मान के लिए प्रमाणित विवरण, यदि कोई पुरस्कार या सम्मान प्राप्त किया हो तो उसका विवरण, चयन होने की दशा में सम्मान ग्रहण करने के संबंध में आवेदक की सहमति दो पासपोर्ट फोटोग्राफ के साथ लिफाफे पर सम्मान एवं वर्ष का उल्लेख करते हुए सचिव छत्तीसगढ़ संस्कृत विद्यामंडलम् न्यू राजेन्द्र नगर पानी टंकी के पास, छत्तीसगढ़ हाथ करघा कार्यालय के सामने रायपुर-छत्तीसगढ़ पिन नं. 492001 के पते पर 31 जुलाई तक कार्यालयीन समय में अपनी प्रविष्टि प्रत्यक्ष अथवा डाक से जमा कर सकते हैं। निर्धारित तिथि के पश्चात् प्राप्त प्रविष्टियों पर विचार नहीं किया जाएगा। सम्मान के लिए प्रविष्टि प्रस्तुत करने वाले का कार्य क्षेत्र छत्तीसगढ़ होना आवश्यक है। संस्कृत विद्यामंडलम् से सम्मान प्राप्त कर चुके विद्वान पुनः आवेदन नहीं कर सकेंगे। इस संबंध में प्रस्ताव का विवरण वेबसाईट बहेअउण्बहेजंजमण्हवअण्पद पर भी देखा जा सकता है। इच्छुक विद्वान संस्कृत विद्यामंडलम् के दूरभाष 0771-4001733 पर भी संपर्क कर जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।