मातृ दिवस पर दुर्ग पुलिस का शानदार कार्य, बरसात में भीगती असहाय बुजुर्ग महिला को वृद्धाश्रम पहुंचाया

 

-दुर्ग पुलिस द्वारा किया गया सराहनीय कार्य

- सड़क में रह रही बुजुर्ग महिला को भेजा गया आश्रय स्थल

-सीएसपी दुर्ग ने समाज कल्याण विभाग से समन्वय स्थापित कर भेजा  वृद्धाआश्रम

दुर्ग । असल बात न्यूज।

पुलिस वालों के दिल में भी भावनाएं होती हैं, सहानुभूति होती है। मर्म होता है। दुखी लोगों की भावनाओ को समझने की शक्ति होती है और उनकी मदद करने की तड़प भी होती है। सीएसपी दुर्ग ने आज रास्ते में एक बुजुर्ग महिला को बारिश में भीगते हुए देखा तो उनसे इस पीड़ादायक दृश्य को देखा ना जा सका। उन्होंने  पीड़ित महिला की तत्काल मदद करने का निर्णय लिया। उन्होंने समाज कल्याण विभाग के अधिकारियों से इस बारे में बातचीत की। इन प्रयासों से एक पीड़ित वृद्ध को आश्रय स्थल पहुंचाया जा सका। आज मदर्स डे भी था। एक पुलिस अधिकारी ने इंसानियत का परिचय देते हुए पीड़ित बुजुर्ग महिला की सेवा कर निश्चित रूप से नई मिसाल कायम की है। मानव सेवा की ऐसी खबर मिलती है तो विश्वास हो जाता है कि संसार में अभी भी अच्छे लोगों की कमी नहीं है।

पुलिस अधीक्षक  प्रशांत ठाकुर के मार्गदर्शन में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  संजय ध्रुव के निर्देशन में लगातार दुर्ग पुलिस अपराध को रोकने हेतु कार्रवाई कर रही है, साथ ही अपना सामाजिक दायित्व भी निभाते हुए एक बेहतर समाज बनाने हेतु अपना प्रयास कर रही है। वरिष्ठ अधिकारियों की प्रेरणा से विभाग के लोगों के द्वारा सामाजिक दायित्व के निर्माण के मामले जब तक सामने आते रहते हैं।

 ऐसा ही एक मामला आज भी सामने आया। सीएसपी दुर्ग  विवेक शुक्ला राजेन्द्र पार्क से गुजर रहे थे तो खुले में सड़क के किनारे एक बुजुर्ग महिला को बारिश में भीगते हुए देखा। यह दृश्य देखकर उनका मन व्याकुल हो उठा । उनके मन में तरह तरह के विचार आने लगे कि एक बुजुर्ग असहाय महिला के साथ क्या ऐसा हो सकता है कि इस सभ्य समाज में उसे बेबस होकर बारिश में भीगते रहना पड़े ?क्या उसे कोई ठोर ठिकाना नहीं मिल सकता ?  जहां वह सुरक्षित रह सके ? क्या शासन की ऐसी कोई योजना नहीं है जहां कमजोर बेबस महिलाओं को आश्रम मिल सके ? क्या उसकी वे कोई मदद नहीं कर सकते ?

उन्होंने मन में उस बुजुर्ग महिला की हर हालत में सेवा करने की ठान ली। सहयोग से आज मदर्स डे भी था। और इस तरह से उन्हें एक मां की सेवा करने का अवसर मिल गया। उन्होंने महिला को आश्रय स्थल पहुंचाने हेतु  समाज कल्याण विभाग के डिप्टी डायरेक्टर  डी डी ठाकुर से फोन लगाकर तत्काल बातचीत की और पूरी वस्तु स्थिति की जानकारी उन्हें देते हुए  वृद्ध महिला को शीघ्र से शीघ्र  वृद्धाआश्रम भेजने हेतु सहयोग मांगा।

इसके साथ ही उन्होंने पद्मनाभपुर  पेट्रोलिंग को मौके पर बुलवाया। उन्होंने उक्त पीड़ित  बुजुर्ग महिला से बातचीत की था उसे मदद करने का विश्वास दिलाया उसने अपना नाम नेम बाई निवासी राजनांदगांव बताया है मदद का आश्वासन मिलने पर  उ वृद्धा आश्रम चलने हेतु तैयार हो गई। सीएसपी दुर्ग श्री विवेक शुक्ल समाज कल्याण विभाग के डिप्टी डायरेक्टर श्री डीडी ठाकुर एवं पद्मनाभपुर चौकी की एएसआई शैल शर्मा तथा आरक्षक श्री नेमु साहू एवं राजपूत के सहयोग से उक्त महिला को कादंबरी नगर स्थित वृद्धाआश्रम में पहुंचाया गया।