रोको अउ टोको की शुरूआत, मास्क नहीं पहना तो टोकेंगे वालंटियर, बताएंगे टीका के फायदे भी

 

-वैक्सीन लगाने के लिए भी प्रेरित करेंगे, यूनिसेफ और जिला प्रशासन के संयुक्त तत्वावधान में हो रहा अभियान
-विधायक श्री अरुण वोरा एवं महापौर श्री धीरज बाकलीवाल ने हरी झंडी दिखाकर अभियान की शुरूआत की

दुर्ग । असल बात न्यूज।

जिले में कोरोना संक्रमण को कमजोर करने के लिए कोविड एप्रोप्रिएट बिहैवियर बहुत जरूरी है। इसमें मास्क लगाना, समय-समय पर हाथों को सैनिटाइज करना, दो गज की दूरी बनाये रखना रोज की दिनचर्या में जरूरी है। दीर्घावधि में सुरक्षित होने के लिए टीकाकरण जरूरी है। जिला प्रशासन और यूनिसेफ के संयुक्त तत्वावधान में आज रोको अउ टोको अभियान की शुरूआत की गई। दुर्ग विधायक  अरुण वोरा एवं महापौर श धीरज बाकलीवाल ने हरी झंडी दिखाकर इस अभियान की शुरूआत की।

 यह अभियान तीन महीनों तक चलेगा और 600 से अधिक वालंटियर लोगों को कोविड एप्रोप्रिएट बिहैवियर के संबंध में प्रेरित करेंगे। इस मौके पर विधायक श्री वोरा ने वालंटियर्स को कहा कि आप लोगों पर बड़ी जिम्मेदारी है। लोगों को कोरोना के खतरों के प्रति जागरूक करना है और बचने  के उपाय भी बताना है। साथ ही वैक्सीनेशन के संबंध में भी लोगों को तैयार करना बेहद अहम है। वैक्सीनेशन ही कोरोना से बचाव का सबसे बड़ा माध्यम है। इस मौके पर महापौर श्री बाकलीवाल ने वालंटियर्स से कहा कि लोगों को बताएं कि किस प्रकार मास्क नहीं लगाने की थोड़ी सी भी चूक किस तरह जानलेवा साबित हो सकती है। इस मौके पर कलेक्टर डॉ. सर्वेश्वर नरेंद्र भुरे ने कहा कि आप लोग बताएं कि किस प्रकार कोविड को लेकर की गई लापरवाही गंभीर संकट में डाल सकती है। जो लोग कोविड एप्रोप्रिएट बिहैवियर नहीं करते, वे स्वयं को संकट में डालते ही हैं अपने परिवारजनों और प्रियजनों को भी संकट में डाल देते हैं। उन्होंने कहा कि वालंटियर्स लोगों को टीके के बारे में भी प्रेरित करें। टीका लगाना पूरी तरह से सुरक्षित है। इससे कोविड के विरुद्ध प्रतिरोधक क्षमता तैयार होती है। कलेक्टर ने वालंटियर्स से कहा कि लोगों को कोरोना के लक्षणों के बारे में भी प्रेरित करें और ऐसे लक्षणों के दिखने के बाद तुरंत टेस्टिंग कराने के बारे में भी बताएं। उन्होंने कहा कि वालंटियर्स का कार्य लोगों के भीतर कोविड से संबंधित भ्रांतियों को दूर करना है। कोविड एप्रोप्रिएट बिहैवियर का पालन बहुत जरूरी है इसलिए ही यह अभियान रोको अउ टोको आरंभ किया गया है। जो लोग मास्क नहीं लगा रहे हैं वे अपने को खतरे में डाल ही रहे हैं अपने प्रियजनों और परिजनों को भी खतरे में डाल रहे हैं।

 इस मौके पर अपर कलेक्टर श्री बीबी पंचभाई, डिप्टी कलेक्टर  प्रवीण वर्मा एवं डिप्टी कलेक्टर सुश्री प्रियंका वर्मा एवं अन्य अधिकारी भी उपस्थित थे। इस दौरान यूनिसेफ की ओर से  सैम बंडी, मीडिया कलेक्टिव फार चाइल्ड राइट की ओर से महासचिव  डी श्याम कुमार एवं रोको अउ टोको अभियान के जिला समन्वय  चंद्रकांत देवांगन भी मौजूद रहे।