गुजरात में तूफान आने की आशंका के मद्देनजर कई ट्रेनें रद्द

 

नई दिल्ली। असल बात न्यूज।

गुजरात में तूफान आने की आशंका को देखते हुए छत्तीसगढ़ से उधर जाने वाली कई ट्रेनों को निरस्त कर दिया गया है।तटीय गुजरात क्षेत्र में  चक्रवात चेतावनी के कारण निम्नलिखित ट्रेनों को रद्द और शॉर्ट टर्मिनेशन किया जाएगा

रद्द होने वाली गाड़िया

 1) 09206 (हावड़ा- पोरबंदर) 15 मई,2021 को रद्द 

 २) 09094 (संतरागाछी पोरबंदर ) 16 मई,2021 को रद्द

 गंतव्य से पहले समाप्त होने वाली गाड़ी :

 1) 02974 (पुरी -गांधीधाम) 15  मई, 2021 को पुरी से चलने वाली गाड़ी अहमदाबाद में समाप्त कर दी जाएगी।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार पिछले छह घंटों के दौरान लक्षद्वीप क्षेत्र में बना हुआ कम दवाब का क्षेत्र 19 किमी प्रति घंटा की गति से उत्तरपूर्व दिशा की ओर बढ़ गया है। यह तेजी से सघन होकर बादलों में परिवर्तित होने के बाद आज अपराह्न 1430 बजे लक्षद्वीप और आसपास के दक्षिणपूर्वी और पूर्वी मध्य अरब सागर में 11.5 डिग्री उत्तरी अक्षांश एवं 72.5 डिग्री पूर्वी देशांतर पर अमीनीदीवी से लगभग 50 किमी उत्तरपश्चिम  में, कन्नूर, केरल से 310 किमी पश्चिम दक्षिण-पश्चिम में और वेरावल, गुजरात से 1060 किमी दक्षिण दक्षिण-पूर्व में केन्द्रित था। अगले 12 घंटों में इसके चक्रवाती तूफान में बदलने और उससे अगले 24 घंटों में और सघन होने की सम्भावना है। 18 मई की सुबह तक इसके उत्तर-पश्चिम की ओर बढकर गुजरात तट के पास पहुँच जाने की सम्भावना है।

  • एक द्रोणी (ट्रफ़) के रूप में समुद्र सतह से औसतन 5.8 किमी उंचाई पर मध्य एवं ऊपरी पश्चिमी हवाओं के बीच में पश्चिमी विक्षोभ अभी भी 78 डिग्री पूर्वी देशांतर और 30 डिग्री उत्तरी अक्षांश के बीच मौजूद है।
  • मध्य पाकिस्तान और उसके समुद्र सतह से 1.5 किमी की औसत उंचाई पर अभी भी चक्रवाती परिवृत्त बना हुआ है I
  • मध्यवर्ती पाकिस्तान और उसके आसपास से लेकर राजस्थान होते हुए पश्चिमी उत्तर प्रदेश तक इस चक्रवाती परिवृत्त के बाद एक पूर्व पश्चिम द्रोणी (ट्रफ़) अभी भी बना हुआ है।
  • विदर्भ और उसके आसपास 1.5 किमी की औसत ऊंचाई पर चक्रवाती परिवृत्त अभी भी बना हुआ है।
  • 1.5 किमी से 3.1 किमी की समुद्र सतह से औसत ऊंचाई के मध्य 88 डिग्री पूर्वी देशांतर और 25 डिग्री उत्तरी अक्षांश के बीच पश्चिमी हवाओं में द्रोणी (ट्रफ़) अभी भी बनी हुई है।
  • गांगेय पश्चिम बंगाल और उसके समुद्र सतह से 0.9 किमी औसत ऊंचाई पर चक्रवाती परिवृत्त अभी भी बना हुआ है।
  • असम के मध्यवर्ती भाग के ऊपर समुद्र सतह से 0.9 किमी औसत ऊंचाई पर चक्रवाती परिवृत्त अभी भी बना हुआ है।