वैक्सीन की दोनो डोज लगाने के बाद शरीर को अधिक सुरक्षा मिलती है और संक्रमण के मामले कम होते हैं

 



रायपुुर । असल बात न्यूज़।

 कोरोना संक्रमण के विरूद्ध वैक्सीन एक कारगर उपाय है। विशेषज्ञों के अनुसार  वैक्सीन की दोनो डोज, निर्धारित अंतराल में  लगाने के बाद शरीर को अधिक सुरक्षा मिलती है और संक्रमण के मामले कम होते हैं। इसलिए  जिन लोगों ने पहला डोज लगवाया है उन्हे दूसरा डोज, पहले डोज लगाने के 4 से 8 सप्ताह के अंदर अवश्य लगवाना चाहिए और अपना प्रतिरक्षात्मक तंत्र मजबूत करना चाहिए । 
   स्वास्थ्य विभाग ने सभी से अपील की है कि वैक्सीन की पहली डोज और दोनों डोज लगने के बाद भी सभी को कोविड अनुकूल व्यवहार का पालन करना चाहिए,मास्क सही ढंग से पहनना,भीड़ में जाने से बचना और हाथों की नियमित साबुन पानी से सफाई आवश्यक है।
     राज्य में अब तक 45 साल से अधिक आयु के 42लाख 34 हजार 789 को पहली डोज और 2लाख 92हजार 128 को दूसरी डोज लग चुकी है। हेल्थ केयर वर्कर मेें 2लाख 99 हजार से अधिक को पहली और 2 लाख 7 हजार से अधिक को दूसरी डोज,फ्रंटलाइन वर्कर में 2लाख 73 हजार से अधिक को पहली और 1लाख 61 हजार से अधिक को दूसरी डोज लग चुकी है। अब तक प्रदेश में  54 लाख 69 हजार से अधिक डोज लगाई जा चुकी है।