मुख्य चिकित्सालय सेक्टर 9 भिलाई में भी कोविड के मरीजों की बढ़ती जा रही है मौतो की संख्या, संयंत्र कार्मिकों में नाराजगी

 

भिलाई। असल बात न्यूज़।

भिलाई इस्पात संयंत्र के सबसे बड़े चिकित्सालय सेक्टर 9 अस्पताल में भी कोरोना के संक्रमित मरीजों के मौत  की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। संयंत्र कार्मिकों  में इससे नाराजगी तथा चिंताएं बढ़ती जा रही है। संयंत्र का यह मुख्य चिकित्सालय एक समय ऐसा अस्पताल रहा है जिसकी अपनी अलग ख्याति और पहचान रही है जहां विभिन्न रोगों के इलाज के लिए दूर-दूर से लोग  आते थे और उन्हें उच्च स्तर की स्वास्थ्य सुविधाएं मिलती थी। ताजा हालात में संयंत्र कार्मिकों  में  अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंताएं बढ़ती जा रही है।इस अस्पताल में आज पिछले 24 घंटों के दौरान कोरोना से 12 लोगों की मौत हो गई है।

कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव से हर जगह हाहाकार मचा हुआ है। हर तरफ भय और दहशत का वातावरण फैल रहा है। ऐसे में लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं, दवाइयां और स्वच्छ वातावरण तथा आवश्यक चिकित्सकीय  उपकरणों की जरूरत है। यह सबको मालूम है कि कोरोना से बचाव के लिए कारगर मानी जाने वाली कई दवाइयों के लिए आ म लोग हर जगह भटक रहे हैं।यह दवाई हासिल करने उन्हें कई घंटों तक लंबी लाइन में लगना पड़ रहा है।

संयंत्र कार्मिकों को स्वास्थ्य सेवाओं के लिए मुख्य चिकित्सालय सेक्टर 9 भिलाई से हमेशा बड़ी उम्मीदें रही हैं। टाउनशिप इलाके में भी कोरोना के संक्रमण का बड़े पैमाने पर फैलाव हो गया है। अभी कोरोना वायरस के संक्रमित भी उपचार के लिए इस अस्पताल में  बड़ी संख्या में भर्ती हो रहे हैं। कोरोना के मरीजों की संख्या यहां लगातार बढ़ती जा रही है।

पिछले 3 दिनों से चिंताजनक खबरें आ रही हैं। हालात इतने गंभीर हो गए हैं कि सिर्फ इसी अस्पताल में मुख्य चिकित्सालय सेक्टर 9 भिलाई में पिछले 3 दिनों से प्रतिदिन लगभग 10 कोरोना पीड़ितों की मौत हो जा रही है। प्राप्त जानकारी के अनुसार 22 अप्रैल को इस अस्पताल में कोरोना से 11 लोगों की मौत हो गई । संयंत्र के कार्मिकों का कहना है कि इस अस्पताल में ऑक्सीजन वाले बेड तथा जीवन रक्षक दवाइयों की उपलब्धता को बढ़ाया जाना चाहिए।