स्वरूपानन्द सरस्वती महाविद्यालय परिसर एनर्जी एवं ग्रीन ऑडिट सर्टिफाइड

 भिलाई। असल बात न्यूज़।

स्वामी श्री स्वरूपानन्द सरस्वती महाविद्यालय उर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए निरंतर प्रयासरत है। इसी कड़ी में महाविद्यालय द्वारा जल, उर्जा एवं पर्यावरण संरक्षण एवं वेस्ट मैनेजमेंट के लिए किये जा रहे कार्यो का  अंकेक्षण कराया गया।

श्री संजय कुमार मिश्रा सर्टिफाइड एनर्जी ऑडिटर, मिनिस्टरी ऑफ़ पॉवर , भारत सरकार नई दिल्ली द्वारा एनर्जी एवं ग्रीन ऑडिट के मापदंडो  के तहत महाविद्यालय का अंकेषण किया गया| अंकेषण में मुख्यतः जल प्रबंधन, परिसर में जल का उपयोग जल संरक्षण हेतु महाविद्यालय द्वारा किये गए प्रयास एवं रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का निरिक्षण किया गया

उर्जा संरक्षण में महाविद्यालय द्वारा उपयोग में लायी जाने वाली बिजली का मापन विद्युत् बिल से किया गया तथा सोलर पैनल सिस्टम लगने से कितने बिजली की बचत हो रही है तथा कार्यालय एवं कक्षों में स्विच बोर्ड की स्थिति  कैसी है का आकलन किया गया तथा महाविद्यालय द्वारा उर्जा संरक्षण हेतु प्रयासों की सराहन की गई जैसे स्टाफ एवं विद्यार्थी जरुरत होने पर ही लाइट जलाते है तथा कक्ष छोड़ने पर पंखा और लाइट बंद कर के जाते है| 

ग्रीन कैंपस मैनेजमेंट में महाविद्यालय परिसर में लगे हुए छायादार ,फलदार वृक्ष एवं औषधीय पौधो से परिसर में हरियाली है तथा महाविद्यालय द्वारा पुराने कपडे, व बोर से गमला बना कर अतिथियों का स्वागत किया जाता है यह वेस्ट मैनेजमेंट एवं पर्यावरण संरक्षण की दिशा में अनुकरनीय पहल है! महाविद्यालय को एनर्जी एवं ग्रीन ऑडिट सर्टिफिकेट प्राप्त होने पर श्री गंगाजली शिक्षण समिति के चेयरमैन श्री आई पी मिश्रा एवं महाविद्यालय के  सीओओ  डॉ. दीपक शर्मा ने प्रसन्नता व्यक्त की एवं महाविदयालय की उपलब्धि के लिए प्राचार्य एवं स्टाफ को  बधाई दी!