सांसद विजय बघेल ने कोरोना संकट के दौरान बेहतर प्रदर्शन के लिए रायपुर एम्स की लोकसभा में की तारीफ, बस्तर में भी एम्स खोलने का आग्रह किया

 रायपुर, दुर्ग। असल बात न्यूज़।

दुर्ग लोकसभा क्षेत्र के सांसद विजय बघेल ने कोरोना संकट के दौरान मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराने के लिए एम्स रायपुर के चिकित्सकों तथा निदेशक मंडल की तारीफ की है। उन्होंने आज लोकसभा में बोलते हुए कहा कि एम्स ने वैश्विक महामारी कोरोना के कठिन संकट के दौर में लोगों की जिंदगी बचाने का सराहनीय काम किया है। एम्स की स्वास्थ्य  सुविधाएं आम लोगों के लिए जीवनदायिनी साबित हुई हैं। उन्होंने राजधानी रायपुर में स्थापित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऐम्स  की सुविधाओं को जीवनदायिनी बताते हुए इस अस्पताल में चिकित्सकों, स्टाफ तथा उपकरणों की सुविधाओं को और बढ़ाने का आग्रह किया है।

 उन्होंने कहा कि एम्स की सुविधाओं के चलते छत्तीसगढ़ में कोरोना से संक्रमित हजारों लोगों की जान बचाई जा सकी। उन्होंने राज्य के वनांचल क्षेत्र बस्तर में भी एम्स अस्पताल खोलने का आग्रह किया है।

सांसद विजय बघेल ने लोकसभा में आज शून्य काल में बोलते हुए इस विषय पर कई सारी बातें रखी। उन्होंने छत्तीसगढ़ राज्य में कोरोना के संकट के फैलाव के दौरान अस्पताल की सुविधाओं से राज्य के  आम लोगों को मिले फायदे के बारे में बताते हुए ऐम्स के महत्व को प्रतिपादित किया। वे स्वास्थ्य विभाग के बजट पर चर्चा के दौरान इन विषयों पर अपनी बात रखने वाले थे लेकिन समय के अभाव की वजह से तब उन्हें मौका नहीं मिल सका था।

शून्य काल में बोलते हुए सांसद विजय बघेल ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई का स्मरण करते हुए कहा कि पूर्व सांसद रमेश बैस जी के आग्रह पर तत्कालीन प्रधानमंत्री वाजपेई जी ने छत्तीसगढ़ में एम्स की स्थापना  की स्वीकृति दी थी।इस एम्स की स्थापना से छत्तीसगढ़ राज्य में स्वास्थ्य सुविधाओं में काफी सुधार हुआ है। एम्स corona  संकट के दौर में छत्तीसगढ़ की आम जनता के लिए जीवनदायिनी साबित हुआ है। कोरोना से पीड़ित लोगों को सिर्फ यहां ही इलाज की सुविधा नहीं मिली वरुण यहां पर डायरेक्टर Dr नितिन के निर्देशन में पूरे प्रदेश के अस्पतालों में कोरोना के मरीजों का समुचित इलाज किया गया। उन्होंने एम्स में चिकित्सकों स्टाफ तथा उपकरणों की सुविधाएं बढ़ाने का आग्रह करते हुए कहा कि सुविधाओं के बढ़ने से एम्स एक बेहतर स्वास्थ्य केंद्र के रूप में विकसित हो सकेगा और इसका लाखों लोगों को विभिन्न तरह की बीमारियों के इलाज में फायदा मिल सकेगा। उन्होंने छत्तीसगढ़ के बस्तर क्षेत्र में भी एम्स का एक केंद्र खोलने का आग्रह किया।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व और कुशल मार्गदर्शन में केंद्रीय  स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कोरोंना संकट से निपटने के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं की हैं,जिससे आम जनता का सरकार के प्रति भरोसा बढ़ा है। उन्होंने  कहा कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री और स्वास्थ्य मंत्री के बीच संवाद हीनता की स्थिति है।  इसी के साथ उन्होंने अवैध रूप से शराब की बिक्री तथा ऑनलाइन शराब बिक्री के लिए राज्य सरकार की आलोचना की।