छत्तीसगढ़ में 21 मार्च तक आंधी-तूफान, बिजली गरजने तथा तेज हवाओं (30-40 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति) के साथ छिटपुट वर्षा की संभावना

 

पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के ऊपर छिटपुट से व्यापक वर्षा का अनुमान


अगले एक सप्ताह के दौरान देश में कड़ाके की गर्मी की स्थिति नहीं


नई दिल्ली। असल बात न्यूज़।

छत्तीसगढ़ राज्य में अभी मौसम बदल गया है। जहां गर्मी बढ़ने लगी थी उसकी जगह जगह-जगह हल्की बारिश हो रही है। वातावरण में ठंडक आ गई है। धूप तेज नहीं हो रही हैं। यहां ऐसा वातावरण आगामी 21 मार्च तक बने रहने की संभावना है। मौसम में इस तरह का बदलाव देश में कई प्रदेशों में देखने को मिल रहा है। आगामी 21 मार्च,  तक मध्य प्रदेश, विदर्भ और छत्तीसगढ़ में तूफान, बिजली कड़कने तथा तेज हवाओं (30-40 किलोमीटर प्रतिघंटे की गति के साथ) छिटपुट वर्षा की संभावना बनी हुई है।

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) के राष्ट्रीय मौसम पूर्वानुमान केंद्र के अनुसारःसक्रिय पश्चिमी विक्षोभ तथा इससे जुड़े चक्रवाती परिसंचरण के प्रभाव के कारण 11 से 13 मार्च, 2021 के दौरान पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में हल्की से मामूली तथा छिटपुट स्थानों पर व्यापक वर्षा और समीपवर्ती मैदानी क्षेत्रों में हल्की छिटपुट वर्षा हुई। 12 मार्च, 2021 को जम्मू-कश्मीर में छिटपुट स्थानों पर भारी वर्षा भी हुई।

  • देश के मध्य भागों में चक्रवाती परिसंचरण के कारण पिछले सप्ताह (11 से 17 मार्च, 2021) के दौरान मध्य भारत में हल्की से मामूली छिटपुट वर्षा/गरज के साथ वर्षा हुई।
  • पिछले सप्ताह के दौरान कुल मिलाकर भारत में वर्षा गतिविधि लंबी अवधि औसत (एलपीए) से 34 प्रतिशत नीचे रही। एक सघन पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव के कारण पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के ऊपर छिटपुट से व्यापक वर्षा और 21-24 मार्च, 2021 के दौरान उत्तर-पश्चिमी भारत के समीपवर्ती मैदानी क्षेत्रों में छिटपुट स्थानों पर हल्की से मामूली वर्षा होने का अनुमान है। 22 एवं 23 मार्च, 2021 को पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र के ऊपर कहीं-कहीं भारी वर्षा/बर्फबारी की भी आशंका है।
  •  18 एवं 19 मार्च को पश्चिमी मध्य प्रदेश और विदर्भ मेः 19 मार्च को पूर्वी मध्य प्रदेश में तथा 19 तथा 20 मार्च, 2021 को मराठवाड़ा तथा तेलंगाना में छिटपुट स्थानों पर ओलावृष्टि की आशंका है।
  • अगले एक सप्ताह के दौरान देश में कड़ाके की गर्मी की स्थिति नहीं है।

 

अगले दो सप्ताह के लिए पूर्वानुमान

सप्ताह 1 (18 से 24 मार्च, 20221) तथा सप्ताह 2 (25 से 31 मार्च, 2021) के दौरान मौसम प्रणालियां तथा संबंधित वर्षा गतिविधियां।

सप्ताह 1 के लिए वर्षाः (18 से 24 मार्च, 2021)

मौसम विभाग के अनुसार उत्तर पश्चिम तथा समीपवर्ती मध्य भारत और सुदूर दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में सामान्य से अधिक वर्षा का अनुमानः उत्तरी प्रायद्वीपीय भारत के कई हिस्सों में सामान्य तथा सामान्य से अधिक वर्षा होने का अनुमान। देश के शेष भागों में सामान्य से कम वर्षा का अनुमान है। (अनुलग्नक V)

सप्ताह 2 के लिए वर्षाः (25 से 31 मार्च, 2021)

  • किसी सक्रिय पश्चिमी विक्षोभ की अनुपस्थिति के कारण, देश के उत्तरी भागों में सामान्य से कम वर्षा गतिविधि रहने का अनुमान है। बहरहाल, दक्षिणी प्रायद्वीप भारत में हवा की अनिरंतर स्थिति के कारण दक्षिणी प्रायद्वीपीय भारत में गरज के साथ वर्षा तथा बिजली कड़कने के साथ हल्की से मामूली वर्षा का अनुमान है। इस प्रकार वर्षा गतिविधि के उपर्युक्त क्षेत्र में सामान्य तथा सामान्य से अधिक रहने का अनुमान है। देश के शेष भागों में सामान्य से कम वर्षा का अनुमान है।